Inner banner

निर्माण गतिविधि

पारेषण प्रणाली की स्थापना

हमारा मुख्य व्यवसाय बिजली के ट्रांसमिशन है| 31 जनवरी 2019 तक हम 1,51,380 स. किमी (Ckt. km.) पारेषण लाइन,  3,53,344 एमवीए परिवर्तन क्षमता और 239 सब स्टेशन का प्रबंधन करते हैं । भारत के अंतरराज्यीय और अंतर - क्षेत्रीय विद्युत पारेषण प्रणाली के सबसे गठन किया और कहा कि सबस्टेशन भारत भर में बिजली वहन करती है|

1 जनवरी 2015 की स्थिति के अनुसार,  विभिन्न चरणों में 87 पारेषण परियोजनाए है जिस मे  लगभग  37,121 करोड़ रुपए की लागत के 18 जनरेशन से जूडी हुई परियोजनाए, 36,607 करोड़ रुपए लागत  की 49 सिस्टम मजबूत परियोजनाए, 42,816 करोड़ रुपए लागत की 21 IPP/LTOA परियोजनाए शामिल है।


इन  परियोजनाए मे  48,671 सर्किट किलोमीटर की दूरी संचरण परियोजनाए, 79,500 एम वी ए  बिजली परिवर्तन क्षमता  और 12,000 मेगावाट एचवीडीसी की 42 सबस्टेशन शामिल है।  नीचे दिए गए लिंक हमारी चल रही परियोजनाओं के बारे में जानकारी की सूची है।